Rishta wo nahi hota jo duniya ko dikhaya

रिश्ता वो नहीं होता जो दुनिया को दिखाया जाता है
रिश्ता वो होता है जिसे दिल से निभाया जाता है
अपना कहने से कोई अपना नहीं होता
अपना वो होता है जिसे दिल से अपनाया जाता है।

Leave a Reply