bank me dakaiti aur seekh

bank me dakaiti aur seekh | short story “| best stories | moral story hindi story hindi story best stories

एक बैंक डकैती के दौरान डाकुओ ने कहा :” सभी अपने हाथों को ऊपर कर लो यह पैसा देश का है पर जान आपकी अपनी है”,…

….यह है ब्रेन वाश करना..

…डकैती के दौरान एक महिला बदहवास सी हो गयी तो डाकू बोला” सभ्यता का परिचय दो यह केवल डकेती है कोई बलात्कार नहीं”यह है प्रोफेशनल होना…

….20 लाख रुपए लूट कर जब घर गए तो छोटा वाला डाकू बोला आओ पैसे गिनते है तो बड़े वाले ने कहा : ” कल न्यूज़ में आजायेगी गिनने की क्या ज़रुरत”यह है अनुभव…..

..लुटने के बाद बैंक मेनेजर ने खजांची को बुलाया और कहा :” रुक पुलिस बुलाने से पहले 10 लाख निकाल के मेरे साले को देदे”यह है बहती गंगा में हाथ साफ़ करना…….खजांची बोला : ओके एक करोड़ चोरी हुए है ऐसा लिखवाता हूँ अपने पिछले 70 लाख भी कवर हो जायेंगेयह है मौके पे चौका…..

…अगले दिन न्यूज़ में आया ” सिटी बैंक में 1 करोड़ की डकेती”डाकूओ ने बार बार गिने लेकिन 20 लाख ही निकले डाकू बोले हमने जान पर खेल कर 20 कमाए मेनेजर ने एक झटके में 80।इसे कहते है “ज्ञान सोने से ज्यादा मूल्यवान है”……..

bank-me-dkaiti
bank-me-dkaiti

Leave a Reply