Dil Chura Liya Lyrics Abhijeet, Kavita Krishnamurthy, Qayamat

Title~ दिल चुरा लिया Lyrics
Movie/Album~ क़यामत Lyrics 2003
Music~ नदीम -श्रवण
Lyrics~ समीर
Singer(s)~ अभिजीत, कविता कृष्णामूर्ति

मेरे दिलबर मेरे जानम
मैंने तुमसे ्यार किया रे
बेचैनी बढ़ती जाती है
तूने कैसा दर्द दिया रे
मैंने प्यार तुम्हीं से किया रे
दिल चुरा लिया, दिल चुरा लिया

तेरी पहली नज़र ने, मेरा चैन चुराया
तेरा ख्वाब जो आया, रातों को जगाया
तेरी प्यास को मैंने, होंठों पे सजाया
चाहत कैसी है, तूने मुझको बताया
दिल चुरा लिया…

पाँव ज़मीं पे पड़ते नहीं
मैं उड़ने लगी हूँ हवा में
खुशबू बन के बिखरी पड़ी है
तेरी ज़ुल्फें आज फिज़ा में
तूने जादू ये कैसा किया रे
दिल चुरा लिया…

तेरी इन बाहों में मुझको
अब तो जीना मरना है
सोच लिया है हद से ज़्यादा
अब इश्क तुझे करना है
मैंने माना तुझे ही पिया रे
दिल चुरा लिया…

Leave a Comment

Your email address will not be published.