mahabharat stories in hindi

DaanVeer Karna ka ek paap

DaanVeer Karna ka ek paap

एक पाप भी भारी पड़ जाता है। || दानवीर कर्ण का एक पाप *जब श्रीकृष्ण महाभारत के युद्ध पश्चात् लौटे तो रोष में भरी रुक्मिणी ने उनसे पूछा.., ” बाकी सब तो ठीक था किंतु आपने द्रोणाचार्य और भीष्म पितामह जैसे धर्मपरायण लोगों के वध में क्यों साथ दिया?” . श्री कृष्ण ने उत्तर दिया.., …

DaanVeer Karna ka ek paap Read More »

shri krishna death story

Mahabharat Stories In Hindi-Mausal Parv

महाभारत – मौसल पर्व – यादवों का नाश -Shri Krishna Death After Mahabharat – महाभारत युद्ध के 36 साल बाद हुई थी श्रीकृष्ण की परलोक सिधार . कृष्ण कुरुक्षेत्र के युद्ध के बाद द्वारिका चले आए थे। यादव-राजकुमारों ने अधर्म का आचरण शुरू कर दिया तथा मद्य-मांस का सेवन भी करने लगे। परिणाम यह हुआ कि …

Mahabharat Stories In Hindi-Mausal Parv Read More »

Mahabharat Stories In Hindi Swargarohan Parv

Mahabharat Stories In Hindi-Swargarohan Parv

महाभारत-स्वर्गारोहण पर्व स्वर्गारोहण पर्व में कुल 5 अध्याय हैं। इस पर्व के अन्त में महाभारत की श्रवणविधि तथा महाभारत का माहात्म्य वर्णित है। इस पर्व के प्रथम अध्याय में स्वर्ग में नारद के साथ युधिष्ठिर का संवाद और द्वितीय अध्याय में देवदूत द्वारा युधिष्ठिर को नरकदर्शन और वहाँ भाइयों की चीख-पुकार सुनकर युधिष्ठिर का वहीं …

Mahabharat Stories In Hindi-Swargarohan Parv Read More »

Pandavo ka Himalaya Gaman Mahabharat

Pandavo ka Himalaya Gaman-Mahabharat

पाण्डवों का हिमालय गमन – महाभारत धर्मराज युधिष्ठिर के शासनकाल में हस्तिनापुर की प्रजा सुखी तथा समृद्ध थी। कहीं भी किसी प्रकार का शोक व भय आदि नहीं था। कुछ समय बाद श्रीकृष्ण से मिलने के लिये अर्जुन द्वारिकापुरी गये। जब उन्हें गए कई महीने व्यतीत हो गये, तब धर्मराज युधिष्ठिर को विशेष चिन्ता हुई। …

Pandavo ka Himalaya Gaman-Mahabharat Read More »

PariChit Ke Janm ki katha Mahabharat

PariChit Ke Janm ki katha-Mahabharat

परीक्षित के जन्म की कथा – महाभारत द्रौपदी को जब समाचार मिला कि उसके पाँचों पुत्रों की हत्या अश्वत्थामा ने कर दी है, तब उसने आमरण अनशन कर लिया और कहा कि वह अनशन तभी तोड़ेगी, जब अश्वत्थामा के मस्तक पर सदैव बनी रहने वाली मणि उसे प्राप्त होगी। अर्जुन अश्वत्थामा को पकड़ने के लिए …

PariChit Ke Janm ki katha-Mahabharat Read More »